राजधानी के तीन थाना क्षेत्रों से चार शव बरामद,एक इंजीनियर लापता

By | December 23, 2021

तीनों थाना की पुलिस जुटी मामले की तफ्तीश में
रांची। राजधानी में आज अहले सुबह से ही तीन थाना क्षेत्रों में कुल चार शव पाये जाने और एक इंजीनियर के लापता होने की चार्चा जोरों पर होती रही।
पहली घटना नामकुम थाना क्षेत्र के बेल बगान स्थित लखानी अपार्टमेंट में घटी जहां बिल्डर संजय लखानी की दो बेटियों को उनके कमरे में मृत पाया गया। यह घटना आस पास के लोगों को झकझोर दिया। मृतकों में संजय लखानी की बड़ी बेटी शीतल और छोटी बेटी मन्या शामिल है। जानकारी के मुताबिक शीतल मेडिका अस्पताल में एचआर के पद पर कार्रत थी और दो महीने पहले ही उसका गौशाला रोड स्थित मनिन्दर सिंह के साथ इंगेजमेंट हुआ था। घटना स्थल से मिली जानकारी के मुताबिक बीती रात शीतल और उसक ी छोटी बहन मान्या ने बर्थ डे पार्टी करने के लिए मनिन्दर सिंह को अपने घर पर बुलाया था। रात 12 बजे के बाद पार्टी की गयी, पार्टी मेें शामिल होने के बाद मनिन्दर सिंह अपने घर चला गया। रात एक बजे शीतन ने मनिन्दर को फोन कर घर पहुंचने की जानकारी ली थी।उसके बाद दोनों बहने एक साथ अपने कमरे में सो गयीं। सुबह देर तक कमरे का दरवाजा नहीं खुलने पर घर वालों ने उन्हें जगाने के लिए आवाज दी लेकिन कोई जवाब नहीं मिला। जिससे परिजन घबरा गये। बाद में इसकी जानकारी आस पास के अलावा नामकुम थाना पुलिस को दी गयी। उसके बाद दरवाला खोला गया तब परिजनों ने देखा कि दोनों बिस्तर पर बेसुध पड़ी हुई हैं। उसके बाद आनन फानन में दोनों को अस्पताल ले गये जहां डॉक्टरों ने दोनों को मृत बता दिया।
ग्रामीण एसपी पहुंचे घटना स्थल, लिया जायजा
सगी बहनों का शव मिलने की खबर सुन कर ग्रामीण एसपी नौशाद आलम जायजा लेने के लिए घटना स्थल पर पहुंंचे और दोनों मृत बहनों के पिता संजय लखानी से मामले की जानकारी ली। पुलिस इस मामले में मेडिका अस्पताल प्रबंधन से भी जानकारी लेने की कोशिश कर रही है। पुलिस इस बात पर तफ्तीश कर रही है कि जब रात में सभी मिल कर एक साथ पार्टी किये,उसके बाद शीतल का होने वाला पति मनिन्दर सिंह के घर जाने के बाद ऐसी क्या बात हो गयी की दोनों बहनों की जान एक साथ चली गयी। गामीण एसपी ने कहा दोनों की मौत दम घुटने से हुई या फिर कुछ खाने से हुई है इसका खुलासा पोस्टमार्टम रिर्र्पोट आने के बाद ही हो पायेगा। उसके बाद आगे की कार्रवाई की जायेगी।
बाद में पुलिस ने दोनों के शव को पोस्टमार्टम के लिए रिम्स भेज दिया।


बंद कमरे से पिता पुत्र का शव बरामद

दूसरी घटना सुखदेव नगर थना क्षेत्र के मधुकम में घटी जहां पिता पुत्र का शव बंद कमरे से निकाला गया।
जानकारी के मुताबिक 80 वर्षीय भोला चौधरी और उसका 19 वर्षीय बेटा अंकित चौधरी रात करीब 10.30 बजे खाना खाने के बाद दोनों एक ही कमरे में सोने चले गये। आज सुबह देर तक सो कर नहीं उठने पर घर वालों को चिंता हुई तब उन्हें जगाने के लिए आवाज दी गयी लेकिन अंदर से कोई जवाब नहीं मिला उसके बाद परिजन आस पास के लोगों को जानकारी दी, पड़ोस के लोगोें के आने के बाद दरवाजा तोड़ा गया तो लोगों ने देखा की एक ही बेड पर पिता पुत्र का शव पड़ा हुआ था लोगों ने यह थी देखा की अंकित चौधरी को रात में उलटी भी हुआ था जिसका छिंटा दिवार पर और उसके चेहरे पर पड़ा हुआ था। बाद में मामले की जानकारी पर सुखदेव नगर थाना प्रभारी ममता कुमारी भी सदलबल मौके पर पहुंची और जायजा लिया। पिता पुत्र की मौत मामले में लोगों के बीच अफवाहोंं का बाजार भी गर्म रहा। कुछ ने कहा जहर खाने से हुई मौत तो किसी ने कहा कमरे में जहरीले गैस के कारण पिता पुत्र की जान चली गयी। मालूम हो कि मृतक भोलानाथ चौधरी गंगा नगर स्थित टिशू पेपर फैक्ट्री में काम करता था। खबर लिखे जाने तक पुलिस दोनों की मौत के कारणों की तफ्तीश में जुटी हुई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *