सरकारी दुकान में बिकती थी नकली शराब

By | November 17, 2022

रांची से आयी टीम ने जांच के बाद किया दुकान सील, तीन लोग हिरासत में

रामगढ़। भुरकुंडा के सरकारी विदेशी शराब की दुकान में खुलेआम नकली शराब बेची जाती है। इससे उपभोक्ता परेशान है, परेशान उपभोक्ताओं में से एक ने रांची उत्पाद विभाग में सूचना दी। सूचना के आलोक में उत्पाद विभाग की टीम ने आज सुबह मेन रोड भुरकुंडा स्थित अनुज्ञप्ति प्रदत्त सरकारी विदेशी शराब की दुकान में छापेमरी की। इस दौरान विदेशी शराब की दुकान से 375 एमएल के (हाफ) कई बोतल बरामद किये गये। टीम में शामिल अधिकारियों के अनुसार, प्रथम दृष्टया में बरामद शराब नकली प्रतीत हो रही है। रांची की टीम ने इसकी सूचना रामगढ़ जिला उत्पाद विभाग को दी।

इसके बाद रामगढ़ की टीम दुकान सील कर दी गयी। जानकारी के अनुसार, विभाग को सूचना मिली थी कि बड़े पैमान पर भुरकुंडा में शराब दुकान से नकली शराब बेची जा रही है। रांची उत्पाद विभाग के कमिश्नर कमलेश्वर प्रसाद सिंह के निर्देश पर विभाग के इंस्पेक्टर प्रेम प्रकाश उरांव व अशोक कुमार, अवर निरीक्षक अनूप प्रताप, प्रदीप शर्मा, व पंकज कुमार दल-बल के साथ छापामारी के लिए पहुंचे थे। निरीक्षक प्रेम प्रकाश उरांव ने बताया कि प्रथम दृष्टया में बरामद शराब नकली प्रतीत हो रहा है। बरामद इमपीरियल ब्लू (आईबी) व मैकडोवल नंबर वन की शराब की बोतल में कई खामियां नजर आई है। उन्होंने बताया कि हाफ बोतल गोल्डेन कलर का स्टीकर से सील रहता है।

जबकि बरामद शराब की बोतल कॉपर कलर से सील है। वहीं रेट का स्टीकर भी ओरजिनल से डीफर दिख रहा है। वहीं मैकडोवल नंबर वन शराब की बोतल में पानी भी मिलाया हुआ पाया गया है। टीम ने शराब दुकान के अलावा आसपास उसके कई गोदाम में भी छापामारी की। साथ ही बगल में स्थित देशी शराब व एक दवा दुकान में भी छापामारी अभियान चलाई गई। हलांकि सभी बोतल अनुज्ञप्ति प्रदत्त विदेशी शराब की दुकान से बरामद हुई। छापेमारी के बाद टीम ने शराब दुकान के इंचार्ज घनश्याम, सेल्समैन विशाल कुमार व एक अन्य को अपने साथ ले गई है। बताया गया कि अब पूरी दुकान में रखे शराबों की जांच की जायेगी।

सूचना के बाद रामगढ़ जिला उत्पाद विभाग के अस्सिटेंट कमिश्नर अजय कुमार गौड़ ने बताया कि हिरासत में लिये गये सभी लोगों से पूछताछ होगी। साथ ही अगर शराब नकली पाई गई तो कानूनी कार्रवाई की जायेगी। छापेमारी टीम में देवेंद्र कुमार, अनूप कुमार, रामसरीख तिवारी सहित इडियन रिजर्व बटालियन व झारखंड पुलिस के दर्जनों जवान शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *