आईआईटी आईएसएम के स्टूडेंट्स को अब नौकरी के लिए पढ़ाई नहीं छोड़ना होगा

By | January 22, 2022

2 सेमेस्टर पूरा होने पर नौकरी ज्वाइन करने के लिए सेमेस्टर लीवर की दी जाएगी अनुमति

रांची। आईआईटी आईएसएम के स्टूडेंट्स को अब नौकरी के लिए पढ़ाई या पढ़ाई के लिए नौकरी को छोड़ने की जरूरत नहीं होगी। पीजी के विद्यार्थियों को एक अवसर प्रदान करते हुए नौकरी ज्वाइन करने के लिए सेमेस्टर लीवर की अनुमति दी जाएगी। हालांकि इसके लिए कुछ शर्तें भी लगाई गई हैं, जो संबंधित विद्यार्थी को सेमेस्टर लीव के आवेदन के वक्त पूरा करना अनिवार्य होगा। मतलब 2 वर्षीय पीजी कोर्स के विद्यार्थी तभी सेमेस्टर लीव के लिए आवेदन कर सकते हैं। जब उनका पहला 2 सेमेस्टर पूरा हो चुका हो। वहीं 3 वर्षीय कोर्स के विद्यार्थियों को पहला 3 सेमेस्टर पूरा करना अनिवार्य होगा। इस संबंध में संस्थान के डीन (एकेडमिक) कार्यालय ने नोटिफिकेशन जारी किया है। इसमें सेमेस्टर लीव से संबंधित सभी दिशा-निदेर्शों से विद्यार्थियों को अवगत करा गया है। सेमेस्टर लीव का लाभ मेधावी विद्यार्थी ही ले पाएंगे। दरअसल सेमेस्टर लीव के लिए आवेदन करने वाले 2 वर्षीय पीजी कोर्स के विद्यार्थियों को पहले दो और 3 वर्षीय पीजी कोर्स के विद्यार्थियों को पहले तीन सेमेस्टर एक ही अटेम्प्ट में पूरा करना जरूरी होगा। बैकलॉग होने पर संबंधित विद्यार्थी आवेदन नहीं कर पाएंगे।

जिस सेमेस्टर में लीव, उसे माना जाएगा निष्क्रिय
डीन एकेडमिक ने स्पष्ट किया है कि जिस सेमेस्टर में लीव की अनुमति मिलेगी, उसे निष्क्रिय सेमेस्टर माना जाएगा। इसके साथ ही संस्थान ने सेमेस्टर लीव के लिए एक शपथ पत्र भी प्रस्तुत करने की बात कही है। सेमेस्टर लीव के लिए आवेदन सेमेस्टर रजिस्ट्रेशन की अंतिम तिथि से पहले जमा करना अनिवार्य होगा।

मेडिकल आधार पर भी लिया जा सकेगा सेमेस्टर लीव
संस्थान ने स्पष्ट कर दिया है कि सेमेस्टर लीव नौकरी ज्वाइन करने के साथ मेडिकल आधार पर भी दिया जाएगा। 2 सेमेस्टर से अधिक लीव नहीं मिलेगा। इसके साथ ही पीजी कोर्स पूरा करने के लिए 2 वर्षीय कोर्स के विद्यार्थियों को अधिकतम 3 वर्ष और 3 वर्षीय एमएससी टेक कोर्स के विद्यार्थियों को अधिकतम 4 वर्ष में कोर्स पूरा करना होगा।
पुन: पढ़ाई के लिए देना होगा कंपनी से एनओसी
सेमेस्टर लीव ले चुके विद्यार्थियों को पुन: पढ़ाई के लिए संबंधित कंपनी से एनओसी देना होगा। उन्हें संबंधित कंपनी से अपने सेमेस्टर रजिस्ट्रेशन के लिए नो आॅब्जेक्शन सर्टिफिकेट भी देना जरूरी होगा। संबंधित छात्र ने नौकरी से त्यागपत्र दे दिया है तो उसे सेमेस्टर रजिस्ट्रेशन के समय उसके त्यागपत्र की स्वीकृति देनी जरूरी होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *