झारखंड के सभी जिलों में कोरोना संक्रमण ने दे दी दस्तक

By | January 4, 2022

संक्रमण की बढ़ी रफ्तार, रोज मिल रहे है 1000 से अधिक संक्रमित

रांची। झारखंड में कोरोना संक्रमण की रफ्तार तेज हो गई है। पिछले तीन दिनों से हर दिन एक हजार से अधिक मामले आ रहे है। कोरोना संक्रमण की रफ्तार ने एक पखवाड़े के अंदर पूरे राज्य को अपनी चपेट में ले लिया। कोरोना संक्रमण से अब तक पाकुड़ जिला बचा हुआ था। लेकिन सोमवार रात को जारी रिपोर्ट में पाकुड़ में चार कोरोना संक्रमितों की पहचान हुई। इसके बाद अब झारखंड के सभी जिलों तक कोरोना पहुंच गया है। सोमवार देर शाम जारी रिपोर्ट के अनुसार रांची सहित चार जिलों में आकड़ा भयावह है। रांची में 615, पूर्वी सिंहभूम में 128, धनबाद में 105 तथा पश्चिमी सिंहभूम में 100 नए मामले आए हैं। अन्य जिलों में भी बड़ी संख्या में नए संक्रमितों की पहचान हुई है। सोमवार को सिर्फ साहिबगंज में एक भी संक्रमित नहीं मिला। झारखंड में सात माह छह दिनों बाद ऐसी स्थिति आई है कि रोज एक हजार से अधिक मामले मिल रहे हैं। इतने दिनों बाद शनिवार को यहां 1,007 मामले एक दिन में मिले थे। इससे पहले यहां 25 मई 2021 को 1,247 मामले मिले थे। झारखंड राज्य सचिवालय में आधा दर्जन से अधिक लोगों को कोरोना होने की पुष्टि होने के बाद कई दर्जन कर्मचारियों ने सोमवार को कोरोना की जांच कराई। देर शाम आधे कर्मियों के साथ सरकारी दफ्तर खुलने की घोषणा के बाद कर्मियों ने राहत की सांस ली। सभी विभागों में एक से दो दिनों के अंदर कर्मचारियों का रोस्टर सिस्टम से आना-जाना शुरू हो जाएगा। उधर एफएफपी बिल्डिंग स्थित मनरेगा सेल में पांच लोगों के कोरोना पाजीटिव होने की सूचना फैली। जिसके बाद विभाग के सभी कर्मियों ने कोरोना जांच कराई। कृषि निदेशालय में भी एक संक्रमित पाया गया है। इसके बाद कई अन्य विभागों के भी दर्जनों कर्मियों ने कोरोना की जांच कराई है। सूत्रों के अनुसार, इनमें से कई में कोविड के लक्षण देखे गए हैं। सूत्रों ने बताया कि हैंडलूम निदेशक दिव्यांशु झा भी कोविड पाजिटिव पाए गए हैं। कई अन्य कर्मियों और अधिकारियों में कोविड के लक्षण देखे जाने के बाद जांच रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *