जिला प्रशासन की अपील : कुछ दिनों तक मुर्गा-बत्तख खाने से बचे लोग

बर्ड फ्लू से मुर्गियों के मरने का सिलसिला जारी, प्रशासन अलर्ट मोड पर

बोकारो। बर्ड फ्लू से फिर 60 से अधिक मुर्गियों की मौत के बाद लोगों में दहशत बन गया है। बोकारो जिला में लगभग 150 से अधिक छोटे-बड़े पोल्ट्री फार्म हैं कई जगहों से इस तरह की खबर आ रही है लेकिन कई पोल्ट्री फार्म के मालिक यह सार्वजनिक तौर पर स्वीकार नहीं करना चाहते। कि उनके यहां भी मुर्गा-मुर्गियों की मौत हो रही है। लगभग 6000 से अधिक मुर्गा व मुर्गी बिक्री के लिए रखे गये हैं। जिला प्रशासन अलर्ट मोड पर है और लोगों से अपील जारी करते हुए कहा है कि कुछ दिनों तक मुर्गा-बत्तख खाने से लोगों को बचना चाहिए। बोकारो के राजकीय कुक्कुट प्रक्षेत्र में बर्ड फ्लू से मुर्गा-मुर्गियों (कड़कनाथ व अन्य प्रकार) के मरने का सिलसिला जारी है। लगभग दो सप्ताह से इनकी मौत हो रही है। मंगलवार को 60 से अधिक मुर्गियों की मौत हो गयी। बचे हुए मुर्गा और मुर्गी की स्थिति भी अच्छी नहीं है। मृत मुर्गा-मुर्गी को दफनाया गया है। पशुपालन विभाग इस तरह की मौत से परेशान है और जांच कर रहा है। दूसरी तरफ इसका दायरा और ना बढ़ जाए। इसे लेकर भी चिंता जाहिर की जा रही है। बोकारो जिला में लगभग 150 से अधिक छोटे-बड़े पोल्ट्री फार्म हैं और यहीं से ज्यादातर मांस की बिक्री सभी जगहों पर होती है। पशुपालन विभाग आज से एक अभियान शुरू किया है। इसके तहत वह सभी पोल्ट्री फार्म में सैंपलिंग का काम कर रहा है। सभी पोल्ट्री फार्म संचालकों को सावधानी बरतने की अपील की गयी है। अगर कहीं स्थिति खराब है या संक्रमण के फैलने के आसार नजर आ रहे हैं। तो तुरंत विभाग को सूचित करने की अपील की गयी है। विभाग ने चिकित्सक और अधिकारियों की एक टीम तैयार की जो ऐसी आपात स्थिति से निपटने के लिए तैयार है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *