अनुबंधित चिकित्साकर्मियों की हड़ताल 17 से

रांची। 7 जनवरी से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जा रहे पारा मेडिकल कर्मियों को अब ऑल झारखंड पारा मेडिकल एसोसिएशन (AJPMA) ने कोर कमिटी की बैठक के बाद ये समर्थन देने का ऐलान कर दिया है। AJPMA की कोर कमिटी की बैठक में महासचिव उपेंद्र कुमार सिंह, प्रदेश अध्यक्ष धर्मेंद्र कुमार सिंह, उमर काबरा, चंदन ठाकुर, संजय कुमार, सुनंदा जायसवाल, आनंद यादव, मनोज कुमार, बहामुनी हेंब्रम सहित अन्य उपस्थित थे।

राज्य सरकार ने अनुबंध पर काम कर रहे संविदाकर्मियों को नियमित करने संकेत तो कई दफा दिये। आदेश-निर्देश भी विभाग की तरफ से कई बार जारी हुए, मुख्यमंत्री ने खुले मंच से ऐलान अनगिनत बार किये, लेकिन नियमितिकरण को लेकर ठोस नतीजा अब तक सामने नहीं आया है। लिहाजा अब संविदा पर काम कर रहे स्वास्थ्यकर्मियों के संगठन अनुबंधित पारा चिकित्साकर्मी संघ और झारखंड राज्य NRHM-ANM/GNM अनुबंध कर्मचारी संघ ने आर पार की लड़ाई लड़ने का ऐलान कर दिया है।

अनुबंधित पारा चिकित्साकर्मी संघ और झारखंड राज्य NRHM-ANM/GNM अनुबंध कर्मचारी संघ ने आंदोलन को लेकर ऑल झारखंड पारा मेडिकल एसोसिएशन के अध्यक्ष और सचिव को सहयोग की अपील के साथ पत्र भेजा था, जिसके बाद एसोसिएशन के महासचिव उपेंद्र कुमार सिंह ने समर्थन पत्र जारी करते हुए लिखा है कि

“ऑल झारखंड पारा मेडिकल एसोसिएशन आपके संघ द्वारा लिये गये आंदोलन का समर्थन करती है और भरोसा दिलाती है कि आपके नियमितिकरण के आंदोलन को सफल बनाने में हरसंभव सहायता प्रदान करें। इस संबंध में एसोसिएशन की तरफ से पारा मेडिकल के सभी साथियों को निर्देश दिया जा चुका है कि वो आंदोलन को सफल बनाने में हर संभव मदद कर सभी अनुबंधित साथियों का नियमितिकरण कराने में सहयोग दें”

हालांकि राज्य सरकार की तरफ से शुक्रवार को संकेत आये कि संविदाकर्मियों को नियमित करने की दिशा में राज्य सरकार बढ़ रही है। इस बाबत स्वास्थ्यकर्मियों को नियमित करने के लिए निर्देश भी जारी कर दिया गया है। लेकिन अनुबंधित पारा चिकित्साकर्मी संघ का आरोप है कि सरकार की नीति स्पष्ट नहीं है। लिहाजा वो पूर्व से घोषित आंदोलन के अनुरूप अपना प्रदर्शन करेंगे।

तय कार्यक्रम के मुताबिक 16 जनवरी को अनुबंधित स्वास्थ्यकर्मी मुख्यमंत्री आवास का घेराव करेंगे और फिर 17 जनवरी से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर बैठ जायेंगे। रांची राजभवन के पास धरना प्रदर्शन किया जायेगा। मांगें पूरी नहीं होने पर 24 जनवरी से अनुबंधित पारा चिकित्साकर्मी आमरण अनशन पर चले जायेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *