जिस घर से उठनी थी बहन की डोली, वहां से निकली भाई की अर्थी…

सूचना मिलते ही पुलिस अस्पताल पहुंची तो पता चला कि इलाज के दौरान मोहन की मौत हो गई है। इस मामले में कालकाजी पुलिस थाने में हत्या का मामला दर्ज कर लिया गया है।

दिल्ली के दक्षिण पूर्वी जिला के कालकाजी थानाक्षेत्र से एक दर्दनाक घटना सामने आई है जिसमें एक 12वीं के छात्र को चाकू से गोद-गोदकर मौत के घाट उतार दिया गया। जानकारी के अनुसार सोमवार की दोपहर छात्रों के दो गुटों में झगड़े ने हिंसक रूप ले लिया, जिसमें एक छात्र पर ताबड़तोड़ चाकू से जानलेवा हमला किया गया।

इस हमले में वह छात्र गंभीर रूप से घायल हो गया। उसे इलाज के लिए उसे नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। पुलिस के अनुसार, मृत छात्र की पहचान, 18 वर्षीय मोहन उर्फ मनिया के रूप में हुई है। बताया जा रहा है कि कुछ समय में मोहन के बहन की शादी होनी थी लेकिन अब भाई की मौत से शादी वाले घर में मातम पसर गया है।

मोहन अपने परिवार के साथ ओखला फेज-2 की झुग्गियों में रहता था। मोहन कालकाजी स्थित सह शिक्षा माध्यमिक स्कूल में 12वीं का छात्र था। पुलिस ने बताया कि सोमवार दोपहर करीब ढाई बजे पुलिस को सूचना मिली कि छात्रों के गुटों के बीच चाकूबाजी में एक छात्र मोहन को गंभीर चोटें आई हैं। जिसे उपचार के लिए नजदीकी पूर्णिमा सेठी अस्पताल लाया गया है।

सूचना मिलते ही पुलिस अस्पताल पहुंची तो पता चला कि इलाज के दौरान मोहन की मौत हो गई है। इस मामले में कालकाजी पुलिस थाने में हत्या का मामला दर्ज कर लिया गया है। पुलिस घटनास्थल के सीसीटीवी फुटेज खंगाल कर आरोपियों की तलाश कर रही है। बताया जा रहा है कि आरोपियों की पहचान हो चुकी है, जल्द ही उनकी गिरफ्तारी कर ली जाएगी।

पुलिस सूत्रों का कहना है कि छात्रों के बीच विवाद किसी लड़की से बात करने को लेकर हुआ था और खूनी वारदात में बदल गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *