गैर भाजपा शासित राज्यों पर ही ईडी की कार्रवाई क्यों हो रही है : मुख्यमंत्री


राज्य में मूलवासी और आदिवासियों को भड़काने का काम कर रही है भाजपा
रांची। सीएम हेमंत सोरेन को गुरूवार को ईडी कार्यालय में पूछताछ के लिए बुलाया गया था। जिस कारण राज्यभर से हजारों महागबंधन के कार्यकर्ता और समर्थन रांची पहुंचे थे। कल से ये कार्यकर्ता रांची में ही जमे हुए है। ये मुख्यमंत्री से मुलाकात करना चाह रहे थे। आज दोपहर मुख्यमंत्री आवास में यूपीए विधायकों की बैठक खत्म होते ही सीएम आवास के बाहर बने मंच पर आये।

मंच से सीएम हेमंत सोरेन ने हाथ जोड़ कर वहां मौजूद लोगों का अभिनंदन स्वीकार किया। मंच पर मंत्री मिथलेश ठाकुर, सत्यानंद भोक्ता, जोबा मांझी, बन्ना गुप्ता, चंपई सोरेन, सांसद विजय हांसदा, महुआ माजी, विधायक अनूप सिंह, सरफराज अहमद, इरफान अंसारी, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजेश ठाकुर, पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुबोध कांत सहाय उपस्थित थे। उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए सीएम सोरेन ने कहा कि हमारे मूलवासी आदिवासियों को विपक्ष भड़काने का काम कर रहा है। लेकिन मैं उनको बता दूं उनका षड़यंत्र सवा तीन करोड़ लोग पहचान लिया है। सरकार की लोकप्रियता जैसे जैसे बढ़ रही है। भाजपा वालों के पेट में दर्द हो रहा हैं। सरकार पंचायत स्तर पर विकास कामों को पहुंचा रही है। ग्रामीणों की समस्या का समाधान कर रही है। भाजपा अपने पाप का ठिकरा वर्तमान सरकार पर फोड़ने का काम कर रही। सीएम ने कहा कि कल हम ईडी आॅफिस गये थे। लगभग 8 घंटों तक उनके सवालों का जवाब दिया। हमने उनसे कहा आपने जो आरोप लगाया हैं।

क्या यह दो साल में पूरा हो सकता है। तो ईडी का कहना है कि यह 2 साल का आरोप नहीं हैं। जब 2 साल का आरोप नहीं है तो पूर्व सरकार को क्यों नहीं बोलते हो। हमने उनसे कहा कि अगर आप ईमानदारी से दूध का दूध और पानी का पानी करोगे तो सरकार का पूर्ण समर्थन एजेंसियों को मिलेगा। सीएम ने कहा कि आखिर गैर भाजपा शासित राज्यों पर ही ईडी की कार्रवाई क्यों हो रही है। आजतक सिर्फ व्यापारी ही देश का करोड़ों रुपये लेकर विदेश भाग रहे हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा ने राज्य और युवाओं की बद से बदतर स्थिति बना दी है। दूसरी तरफ आदिवासी मूलवासी बच्चों को आज हमारी सरकार बीडीओ, सीओ बना रही हैं। रोजगार की व्यवस्था हो रही है। इंजीनियरिंग पर नियुक्ति हो रही है। सीएम ने कहा कि संघर्ष करना हम गरीबों के लिए सर्दियों का इतिहास रहा है। ढिशूम गुरु शिबू सोरेन को भी इन लोगों ने परेशान किया, लेकिन क्या हुआ। आज शिबू सोरेन के ऊपर कोई भी दाग नहीं लगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *