बोरोबिंग गांव में जंगली हाथियों ने कई खेतों के धान फसल को रौंदा

दहशत में है ग्रामीण, पीड़ितों ने वन विभाग से उचित मुआवजा की मांग

रामगढ़। चितरपुर प्रखंड क्षेत्र के बोरोबिंग पंचायत में दो दिनों से जंगली हाथियों के उत्पात से ग्रामीण परेशान है। हाथियों के गांव में पहुंच जाने से ग्रामीणों में दहशत का माहौल है। बघनादा दोहर, थड़घटिया दोहर में जंगली गजराज ने कई किसानों की धान फसल को नष्ट कर दिया। घटना के संबंध में अधिवक्ता सतीश महतो ने बताया कि रविवार एवं सोमवार की देर रात गांव के भीम महतो, तारेन महतो, किशोरी ओहदार, बबलू ओहदार, सतीश मुंडा, खुदीराम महतो, मोहरलाल महतो, राजू मुंडा, सतीश कुमार अन्य किसान के लगी धान फसल को जंगली हाथी ने नष्ट कर दिया। पीड़ित किसानों ने वन विभाग से उचित मुआवजा की मांग की है, ताकि उनकी आर्थिक पूंजी की क्षतिपूर्ति की जा सके। मुखिया बसंती देवी ने कहा कि लिखित आवेदन वन विभाग को दिया जाएगा। ताकि किसानों को उचित मुआवजा मिल सके। उन्होंने वन विभाग से इससे बचाव के लिए फटाखा, टॉर्च, केरोसिन और तेल उपलब्ध कराने की मांग की है। इधर, वनपाल ने बताया कि किसानों को हाथियों द्वारा हुए फसल के नुकसान की जांच की जाएगी। सरकारी प्रावधान के अनुसार मुआवजा दिया जाएगा। उन्होंने ग्रामीणों से अपील की है कि हाथियों से किसी तरह के छेड़छाड़ नहीं करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *