दुकान हटाने के विरोध में शहर के फुटपाथ विक्रेताओं ने निकाली रैली

कहा उजाड़ने से पहले बसाओ, बेरोगार होने पर कैसे पढ़ेंगे हमारे बच्चें

रांची। शहर में फुटपाथ से दुकान हटाने के विरोध में आज फुटपाथ दुकानदारों ने अपनी अपनी दुकानें बंद रखी। शहर भर के फुटपाथ दुकानदार सुबह नागा बाबा खटाल स्थित वेजिटेबल मार्केट में एकत्र हुए। जहां सभी दुकानदारों ने अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन और नारेबाजी की। इसके बाद दुकानदार हाथों में बैनर लेकर रैली निकाले। रैली में विभिन्न मार्गों से होते हुए नगर निगम के समीप पहुंची और सभा में तब्दील हो गयी। इससे पहले दुकानदारों ने नगर निगम के समक्ष पहले बसाओ, फिर उजाड़ों, रोजी-रोटी मत छिनों और हमारे परिवार को पालन पोषण कैसे होगा आदि का नारेबाजी किये। सभा को संबोधित करते हुए वक्ताओं ने कहा कि हमलोग गरीब तबके के लोग है। कर्ज-उधार लेकर फुटपाथ पर दुकान लगाकर परिवार का भरण पोषण और बच्चों को पढ़ा रहे है। लेकिन नगर निगम हम गरीब दुकानदारों को उजाड़ने और रोजी रोजगार छिनने का प्रयास कर रही है। इस शहर के सैकड़ों परिवार के समक्ष आर्थिक समस्या उत्पन्न हो जायेगी। बच्चों की पढ़ाई-लिखायी बंद हो जायेगी। वक्ताओं ने कहा कि हमलोग फुटपाथ में दुकान लगाना छोड़ देंगे, लेकिन पहले नगर निगम हमें दुकान उपलब्ध कराये। दुकानदारों के पास रोजगार के लिए फुटपाथ में दुकान लगाने के अलावा कोई दुसरा विकल्प नहीं है। इसलिए नगर निगम हमें उजाड़ने से पहले बसाने के बारे में सोचे।

शहर के सभी बाजार आज रहे बंद
फुटपाथ से दुकान हटाने के नगर निगम की कार्रवाई के विरोध में आज शहर के सभी क्षेत्रों में फुटपाथ दुकानदारों ने अपनी अपनी दुकानें बंद रखी। वेंडर मार्केट, वेजिटेबल मार्केट, हरमू बाजार, हरमू चौक बाजार, डोरंडा बाजार, लालपुर सब्जी बाजार, बरियातू और मेन रोड के दुकानदारों ने विरोध में दुकान बंद रखी और रैली में शामिल हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *