वंदे भारत ट्रेन पर पथराव, दो खिड़कियों के शीशे क्षतिग्रस्त

कर्नाटक। बीते शनिवार को मैसूर-चैन्नई वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन की दो खिड़कियां क्षतिग्रस्त हो गई। दरअसल, जब यह ट्रेन कृष्णराजपुरम-बेंगलुरू छावनी रेलवे स्टेशनों के बीच पहुंची थी, तो कुछ शरारती तत्वों ने इसपर पथराव किया जिससे खिड़की के शीशे टूट गए। इस बात की जानकारी दक्षिण-पश्चिम रेलवे की ओर से दी गई है। हालांकि, इस घटना में किसी के घायल होने की खबर नहीं है। अधिकारी इस बात की जांच करने की कोशिश कर रहे हैं कि आखिर ये पथराव किसने किया था।

पिछले साल पीएम मोदी ने दिखाई थी हरी झंडी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मैसूर-चेन्नई वंदे भारत को पिछले साल 11 नवंबर को हरी झंडी दिखाई थी। यह एक्सप्रेस ट्रेन सप्ताह के छह दिन चलती है। यह चेन्नई सेंट्रल से सुबह 5:50 बजे निकलती है और दोपहर 12:30 बजे मैसूर पहुंचती है। इसके बीच में, यह बेंगलुरु के केएसआर स्टेशन पर रुकती है।

पहले भी हो चुकी हैं ऐसी घटना

इससे पहले इस साल की शुरुआत में पश्चिम बंगाल के मालदा में हावड़ा जाने वाली वंदे भारत एक्सप्रेस पर पथराव किया गया था। यह घटना 2 जनवरी को हुई थी। ठीक इसके एक दिन बाद दार्जलिंग से वंदे भारत ट्रेन पर पथराव का मामला सामने आया था। वहीं, 20 जनवरी को भी वंदे भारत ट्रेन पर पथराव का मामला सामने आया था, यह एक्सप्रेस ट्रेन न्यू जलपाईगुड़ी से हावड़ा जा रही थी। इस पर बिहार के कटिहार जिला के शरारती तत्वों ने पथराव किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *