कमलदेव गिरि के हत्यारों की पहचान नहीं होने से लोगों में आक्रोश, हंगामा

144 के दौरान भीड़ लाने पर एसडीओ की कार्रवाई, रैफ के जवानों ने खदेड़ा

चक्रधरपुर। गिरिराज सेना के प्रमुख कमलदेव गिरि की हत्या के तीन दिन बाद भी पुलिस के हाथ कोई सफलता नहीं लगी। पुलिस घटना में शामिल लोगों को पकड़ने के प्रयास में कार्रवाई कर रही है, लेकिन पुलिस का हाथ तीसरे दिन भी खाली है। इससे स्थानीय लोगों में आक्रोश है। पुलिस अधीक्षक आशुतोष शेखर द्वारा एसआईटी का गठन कर जांच की जा रही है पर अब तक पुलिस हत्यारों की पहचान नही कर पाई है। इधर, कार्रवाई नहीं होने से शहर के पवन चौक पर धीरे धीरे भीड़ जमा होने लगी है। लोग मुस्लिम बहुल इलाके में घुसने का प्रयास कर रहे थे।

पुलिस द्वारा लगाए गए बैरिकेड के भी उस पार जाना चाहते थे पर मौके पर मौजूद पोड़ाहाट एसडीओ ने उन्हे आगे जाने से रोक दिया। उन्होंने पवन चौक में जमे लोगों को माइक से कहा कि शहर में 144 धारा लागू है। इसलिए भीड़ को हटा दें नहीं तो प्रशासन कार्रवाई करेगा। इस दौरान उन्होंने कई बार भीड़ से हटने का आग्रह किया। इसके बाद जमशेदपुर से आए रैफ के जवानों द्वारा भीड़ हटाने की कार्रवाई शुरू की गई तब जाकर भीड़ को पवन चौक से हटाया गया।

भीड़ से चाईबासा-रांची एनएच 75 ई लगभग घंटे भर जाम रहा। इस दौरान पोड़ाहाट एसडीपीओ कपिल चौधरी, प्रखंड विकास पदाधिकारी संजय कुमार सिन्हा, अंचलाधिकारी बाल किशोर महतो सहित रैफ के जवान के अलावा झारखंड पुलिस की सशक्त बल तैनात थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *