हाथियों के उत्पात से परेशान दारू के ग्रामीणों ने किया सड़क जाम, मुआवजा की मांग

गांव में कई एकड़ में लगी आलू, गोभी, मटर और धान आदि को बर्बाद कर दिया

हजारीबाग। दारू में हाथियों के उत्पात से परेशान होकर ग्रामीण सड़क पर उतर गए हैं। आज सुबह 8:00 बजे से ग्रामीणों ने पुरनाडीह चौक के पास एनएच 100 को जाम कर दिया है। ग्रामीण वन विभाग के अधिकारियों को यहां बुलाने की मांग कर रहे हैं। ग्रामीणों ने बताया कि रविवार की रात भी हाथियों ने गांव में भारी तबाही मचाई है। ग्रामीण शिवचरण साहू की गाय को गौशाला से निकाल कर कुचल कर मार डाला। पूरे गांव में कई एकड़ में लगी आलू, गोभी, मटर आदि को बर्बाद कर दिया। हाथी करीब यहां 7 दिन से जमे हैं और इन्हें भगाने की कोई भी ठोस पहल वन विभाग के द्वारा नहीं की जा रही है। ग्रामीणों के सड़क पर उतरने के बाद वन विभाग की टीम भी पहुंची। बांकुड़ा से हाथियों को भगाने के लिए टीम बनाने पर सहमति बनी। इसके बाद करीब 10:00 बजे सुबह ग्रामीण सड़क से हटने को तैयार हुए। ग्रामीणों को समझाने के दौरान सीओ भी मौजूद रहे और उन्होंने किसानों के नुकसान के लिए मुआवजा देने का आश्वासन दिया। जानकारी के मुताबिक, यहां पर 22 हाथियों का झुंड है। पुरनाडीह में ही तालाब के पास हाथियों का झुंड डेरा जमाए हुए हैं। वन विभाग के मुताबिक इस झुंड में एक गर्भवती हथिनी है। एक-दो दिन में बच्चा जन्म देने वाली है। इसलिए हाथी यहां से टस से मस नहीं हो रहे। सामान्य तौर पर पानी के पास ही पत्नी बच्चे को जन्म देती है इस वजह से इन्हें यहां से हटाना भी मुश्किल हो रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *