अतिक्रमण हटाने गई टीम पर विस्थापितों ने किया पथराव, थानेदार सहित 6 घायल

पथराव कर रहे लोगों पर पुलिस ने किया लाठी चार्ज, प्रशासन ने खाली कराया जमीन

बोकारो। जिला प्रशासन की टीम आज सुबह धनगढ़ी में रेलवे के जमीन से अतिक्रमण हटाने गयी। इस दौरान विस्थापितों अतिक्रमण हटाने का विरोध करने लगे। इसके बावजूद जिला प्रशासन की टीम ने अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई शुरू की। जिसके बाद विस्थापितों के साथ जिला प्रशासन की टीम की झड़प हो गई। इस दौरान लोगों ने पत्थरबाजी शुरू कर दी। जिसमें सेक्टर नाइन के थानेदार संतोष कुमार सहित छह से अधिक पुलिसकर्मी घायल हो गए। बताया जाता है कि धनगढ़ी के विस्थापित तुपकाडीह-तलगड़िया रेलवे लाइन के दोहरीकरण कार्य को रोक रहे थे। उपायुक्त कुलदीप चौधरी के नेतृत्व में प्रशासन ने आज अहले सुबह से कार्रवाई करते हुए विस्थापितों से जमीन खाली करवा दिया।

सेक्टर-9 के थानेदार संतोष कुमार हुए घायल
इस कार्रवाई के दौरान हुई पत्थरबाजी में सेक्टर-9 थानेदार संतोष कुमार सहित छह से अधिक पुलिस वालों को गंभीर चोट लगी है। वहीं, पुलिस ने लाठीचार्ज कर स्थिति नियंत्रण में किया। मौके पर उपायुक्त कुलदीप चौधरी और एसपी चंदन कुमार झा कैंप कर रहे हैं।

वार्ता के बाद नहीं हटे तो हुई कार्रवाई
रेल मार्ग की परियोजना को पूरा करने के लिए लंबे समय से प्रशासन पर दबाव था। कई दौर की वार्ता के बाद भी विस्थापित अपनी जिद पर अडेÞ हुए थे। जब बातचीत से वे वहां से नहीं हटे तो मजबूरन प्रशासन ने आज सुबह यह कार्रवाई की।

95 प्रतिशत काम पूरा भी हो चुका है
तुपकाडीह से तालगड़िया तक के बीच के रेलवे लाइन का दोहरीकरण का काम बीते तीन साल से चल रहा है। 95 प्रतिशत काम पूरा भी हो चुका है। साल 24 सितंबर को प्रशासन के सहयोग से रेलवे ने 16 मकानों को ध्वस्त कर रेलवे लाइन का रास्ता भी साफ कर दिया। इसके बाद से गांव के लोग लगातार धरना दे रहे थे। जब भी रेलवे के कर्मी काम करने पहुंचते, गांव वाले मारपीट पर उतारू हो जा रहे थे।

पहले भी किया गया था रेलवे अधिकारियों पर पथराव
बीते महीने भी रेलवे के अधिकारियों पर ग्रामीणों ने पथराव किया था। इसके बाद लगभग 100 लोगों पर मामला दर्ज हुआ था। चूंकि उच्च न्यायालय में विस्थापितों की ओर से दायर याचिका खारिज हो चुकी है।

500 से अधिक पुलिस कर्मियों की तैनाती
उपायुक्त ने मंगलवार को ही प्रमुख अधिकारियों के साथ प्लान तैयार किया गया। इसके बाद आज अहले सुबह कार्रवाई हुई। जिला प्रशासन व रेलवे अधिकारी पूरी तैयारी के साथ आज सुबह धनघरी गांव पहुंचे थे। धनघरी गांव को लगभग 500 से अधिक पुलिस कर्मियों की तैनाती की गई है। मौके पर प्रशासनिक अधिकारियों में विवेक सुमन, दिलीप कुमार, सभी डीएसएपी और शहर के थानेदार शामिल हैं।

सेल ने दिया है रेल को जमीन
इस जमीन को बोकारो स्टील के लिए अधिग्रहित किया गया था। रेल लाइन के दोहरीकरण के लिए बोकारो स्टील ने 31 एकड़ जमीन रेलवे को हस्तांतरित कर दिया पर गांव की जमीन रेलवे खाली नहीं करा पा रहा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *