नई पीढ़ी को अवगत कराया जा रहा है सिख पंथ की विरासत एवं शहादत

By | December 23, 2021

श्री गुरु गोविंद सिंह, उनके परिवार सहित सैकड़ों सिखों की याद में शहादत पखवाड़ा
जमशेदपुर। सिख समुदाय श्री गुरु गोविंद सिंह जी के चार साहबजादों, माताजी एवं बाबा जीवन सिंह रंगरेटा के साथ ही सैकड़ों सिखों की शहादत को नमन करते हुए शहादत पखवाड़ा मना रहा है। शहर के विभिन्‍न गुरुद्वारों में सोमवार से विविध धार्मिक आयोजन संचालित किए जा रहे हैं। जिससे नई पीढ़ी को सिख पंथ की महान विरासत एवं शहादत से अवगत कराया जा सके। सेंट्रल गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष गुरमुख सिंह मुखे के नेतृत्व में गुरु तेग बहादुर मेमोरियल सभागार में पहली बार दो दिवसीय सफर ए शहादत कार्यक्रम होगा। मंगलवार को रखे गए श्री अखंड पाठ का भोग आज हुआ। इसके साथ ही आज और कल शुक्रवार को धार्मिक समागम होगा। जिसमें इंटरनेशनल पंथक ढाडी जत्था प्रो. भूपेंद्र सिंह प्रीत, पारसमणी अमृतसर वाले, शहीदी इतिहास पर प्रकाश डालेंगे। इसके अलावा भाई धर्मवीर सिंह अमृतसर वाले, स्थानीय कीर्तनी जत्थे व कथावाचक भाई गुरप्रताप सिंह, भाई रामप्रीत सिंह, गुरप्रीत सिंह, प्रभजोत सिंह मनी समेत विभिन्‍न जत्थे गुरवाणी कीर्तन कर संगत को निहाल करेंगे। दोनों दिन संगत के बीच गुरु का अटूट लंगर का आयोजन किया जाएगा। मानगो गुरुद्वारा में 27 दिसंबर तक कार्यक्रम चलेगा। इसमें बच्चों को गुरवाणी कीर्तन इतिहास विरासत से जोड़ने का प्रयास किया जा रहा है। प्रधान भगवान सिंह ने बताया कि कथावाचक गुरु प्रताप सिंह आनंदपुर साहिब, सरसा नदी ते विछोड़ा, चमकौर की गड़ी का युद्ध व सरहिंद में छोटे साहबजादे का दीवार में चुना जाना जैसे ऐतिहासिक घटनाओं की जानकारी दे रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *